(Apply online) MP मध्य प्रदेश बलराम तालाब योजना 2022 | पंजीकरण , ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

join

MP मध्य प्रदेश बलराम तालाब योजना 2022 in hindi | Balram Talab Yojana MP | बलराम ताल योजना मप | Balram Talab Yojana Online Apply | मध्य प्रदेश बलराम तालाब योजना आवेदन | बलराम ताल योजना फॉर्म | mp khet talab yojana |

मध्य प्रदेश सरकार ने वर्ष 2007 में “बलराम ताल” योजना शुरू की थी, जिसका उद्देश्य इस क्षेत्र में वर्षा जल के संरक्षण द्वारा स्थायी आधार पर कृषि गतिविधियों का समर्थन करना था। वर्ष 2007 से 31 मार्च 2010 के बीच, 7518 लाभार्थियों को योजना के तहत सहायता प्रदान की गई है। योजना के तहत लाभार्थी सामान्य किसान, छोटे और सीमांत किसान, एससी / एसटी किसान हैं।

लाभार्थी:

किसान

लाभ:

खेत में वर्षा जल के संरक्षण द्वारा स्थायी आधार पर कृषि गतिविधियों का समर्थन करें।

MP मध्य प्रदेश बलराम तालाब योजना 2022 क्या है

mp बलराम तालाब योजना 2022: किसानों को खेती करने हेतु पर्याप्त पानी की आवश्यकता होती। वर्षा और सर्द ऋतू में तो किसानों की सिंचाई करने के लिए जल मिल जाता है, लेकिन ग्रीष्म ऋतू में पानी का आकाल पड़ जाता है ऐसी ही एक योजना मध्य प्रदेश राज्य सरकार द्वारा भी चलाई गई है जिसका नाम बलराम तालाब योजना है। राज्य में कृषि के समग्र विकास के लिए सतही  एवं भूमिगत जल की उपलब्धता को स्थिर करने की आवश्यकता को पूरा करने के लिए बलराम तालाब योजना 2022 का संचालन किया जा रहा है। आज हम यहां आपको अपने इस लेख के माध्यम से Balram Talab Yojana से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। इसलिए यदि आप भी मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई इस Balram Talab Yojana 2022 के बारे में विस्तार पूर्वक जानना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

MP मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना 2022

MP Balram Talab Yojana 2022

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने Balram Talab Yojana MP का शुभ आरंभ किया है। इस योजना के तहत राज्य सरकार किसानों को सिंचाई के संसाधन सिंचाई यंत्र आदि उपलब्ध करवाने एवं सही जल भूमिगत जल स्तर को बढ़ाने के लिए तलाब एवं नेहरू का निर्माण करा रही है। मध्य प्रदेश बलराम तालाब योजना के तहत जो भी किसान अपने खेत में तालाब का निर्माण कराना चाहता है उसे सरकार द्वारा अनुदान प्रदान किया जाएगा। मध्य प्रदेश बलराम तालाब योजना 2022 के तहत किसान अपने खेतों में ही तलाब का निर्माण कर पाएंगे और इससे उन्हें खेती में सिंचाई के लिए पानी की समस्या उत्पन्न नहीं होगी। हाल ही में मध्य प्रदेश सरकार ने बलराम ताल योजना मप के तहत किसानों को ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आमंत्रित किया है। तो यदि आप इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आप ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से बलराम ताल योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Balram Talab Yojana MP 2022-2023 Detail

योजना का नामबलराम तालाब योजना / Khet Talab Yojana MP
राज्यमध्यप्रदेश
योजना की शुरुआत22 मई 2007 
लाभकिसानों को तालाब, तलाई या डिग्गी निर्माण हेतु अनुदान
लाभार्थी हर वर्ग के किसान
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)

मध्यप्रदेश सरकार अन्य महत्वपूर्ण योजनाए

Highlights of Balram Talab Yojana

योजना का नामबलराम ताल योजना
आरम्भ की गईमध्य प्रदेश सरकार द्वारा
वर्ष2022
लाभार्थीराज्य के सभी किसान
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यखेती के लिए पानी की व्यवस्था करना
लाभखेत में तालाब का निर्माण करने के लिए अनुदान
श्रेणीराज्य सरकार की योजना
आधिकारिक वेबसाइटdbt.mpdage.org/Agri_Index.aspx

मध्य प्रदेश बलराम तालाब योजना न्यू अपडेट

बलराम ताल योजना को वर्ष 2022-23 में अनुदान दरों को पुराने प्रावधान के अनुसार रखते हुए लागू किया गया है। इस योजना का लाभ उन्हीं किसानों को मिलेगा जिनके खेतों में स्प्रिंकलर या ड्रिप सिंचाई उपकरण लगे होंगे। बलराम तालाब योजना परियोजना राज्य के सभी जिलों के लिए लागू की गई है और सभी वर्गों के किसान इस योजना से लाभान्वित होंगे। यह परियोजना कृषि विभाग के माध्यम से क्रियान्वित की जाएगी।

खेत तालाब योजना मध्यप्रदेश का उद्देश्य

भू जल स्तर का लगातार गिरना, वर्षा में कमी जैसे कारणों से गर्मी में कुएं, तालाब व अन्य जल स्त्रोत में पर्याप्त पानी नहीं बचता। कई जगहों पर सूखा पड़ जाता है, जिससे किसानों की फसलों को काफी नुकसान होता है। फसल बिगड़ने से किसान की आर्थिक स्थिति भी अव्यवस्थित हो जाती है। मध्यप्रदेश किसान खेत तालाब योजना की सहायता से खेतों में छोटे तालाब और डिग्गी निर्माण से किसान ग्रीष्म ऋतू में सिंचाई हेतु पानी को संग्रहित कर सकते हैं। सूखे की स्थिति में किसान को सिंचाई करने में कोई असुविधा न हो इस उद्देश्य से ही मध्यप्रदेश में इस योजना को शुरू किया गया था। किसान ऑनलाइन आवेदन कर बलराम तालाब योजना 2021 से जुड़ सकते हैं।

Balram Talab Yojana 2022 लक्ष्य का निर्धारण

बलराम तालाब योजना 2022 के तहत प्रत्येक जिले के लक्ष्य का निर्धारण राज्य स्तर पर किया जाए का। कलेक्टर की अध्यक्षता में एक जिला स्तरीय समिति का गठन किया जाएगा जो विकासखंड के अनुसार लक्ष्यों का निर्धारण करेगी। इस समिति में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत उप संभाग कृषि एवं जिले के सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी सदस्य होंगे।

Balram Talab Yojana MP के तहत प्रस्तावित आधार एवं अनुदान

  • बलराम तालाब योजना के तहत आम किसानों को अपने खेतों में बलराम ताल के निर्माण के लिए स्वीकृत लागत के प्रावधान के लिए 40 प्रतिशत का खर्च 80,000 रुपये तक प्रावधान के साथ  वहन करना होगा।
  • लघु सीमांत किसानों को स्वीकृत लागत के अनुसार प्रावधानित अनुदान का 50 प्रतिशत, 80,000 रुपये तक का व्यय वहन करना होगा, इसी प्रकार अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के किसानों को स्वीकृत लागत के अनुसार 75 प्रतिशत अधिकतम अनुदान राशि 1,00,000 है। रुपये के अतिरिक्त होने वाले व्यय को स्वयं वहन करना होगा।

बलराम तालाब योजना मध्यप्रदेश 2021 की पात्रता

  • किसी भी वर्ग के किसान बलराम तालाब योजना 2021 हेतु आवेदन कर सकते हैं।
  • जिस किसान के खेत में पहले से स्प्रिंकलर इरीगेशन सिस्टम स्थापित होगा वही योजना के अंतर्गत लाभ लेने का पात्र है।
  • स्प्रिंकलर इरीगेशन सिस्टम चालू अवस्था में होना अनिवार्य है, इसका निरिक्षण भूमि संरक्षण सर्वे अधिकारी करेगा।
  • वे ही किसान तालाब या डिग्गी निर्माण हेतु आवेदन करने योग्य होंगे जो स्वयं की भूमि पर खेती करते हों।
  • अतिक्रमित या कब्जे वाली भूमि पर निर्माण कार्य हेतु आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे।
  • तलाब बनाने के लिए खुद की जमीन का होना जरूरी है। पट्टे पर दी गई भूमि जिस पर किसानों का कब्जा नहीं है या अतिक्रमित भूमि पर निर्माण कार्य स्वीकृत नहीं किया जाएगा।

बलराम तालाब योजना का लाभ एवं सब्सिडी राशि

  • हर वर्ग के किसानों हेतु योजना में अलग-अलग अनुदान राशि को निर्धारित किया गया है।
  • यदि सामान्य वर्ग का किसान अपने खेत में तालाब या डिग्गी निर्माण करवाता है तो उसे कुल लागत का 40 प्रतिशत अनुदान (अधिकतम 80 हजार रुपए) सरकार द्वारा दिया जाता है।
  • लघु सीमान्त वर्ग के किसानों हेतु 50 प्रतिशत अनुदान (अधिकतम 80 हजार रुपए) निर्धारित किया गया है।
  • अनुसूचित जाति/जनजाति को सबसे अधिक 75 प्रतिशत अनुदान (अधिकतम 1 लाख रुपए) कुल व्यय पर दिया जाता है।
  • किसान के पास राशि न होने पर वह बलराम तालाब 2021 स्कीम के माध्यम से लोन भी ले सकता है।

मध्यप्रदेश बलराम तालाब योजना कब कर सकते हैं आवेदन?

किसानों को बलराम तालाब योजना 2021 का लाभ देने हेतु उद्यानिकी विभाग द्वारा लक्ष्य के अनुसार समय-समय जिलेवार सूची जारी की जाती है। जब भी इसके आवेदन मांगे जाते हैं तब इसकी सूचना उद्यानिकी विभाग की अधिकारिक वेबसाईट पर जारी कर दी जारी है। जो किसान पहले आवेदन करता है, उसकी पात्रता का निरिक्षण कर उसे खेत तलाई योजना का लाभ दिया जाता है।

उद्यानिकी विभाग ऑफिसियल वेबसाईट: यहां क्लिक करें

मध्य प्रदेश बलराम तालाब योजना 2022 आवेदन प्रक्रिया

यदि आप भी Balram Talab Yojana 2022 के तहत आवेदन कर लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको मध्य प्रदेश सरकार के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
बलराम तालाब योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको बलराम तालाब योजना एप्लीकेशन फॉर्म के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको एक आवेदन फॉर्म दिखाई देगा कौन गिरा इस फॉर्म में मांगी गई संपूर्ण जानकारी ध्यान पूर्वक भरे।
  • जानकारी भरने के बाद सबमिट का बटन दबाएं। इस प्रकार आपके आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

मध्यप्रदेश बलराम तालाब योजना ऋण संबंधी नियम

  • यदि कृषक योजना के अंतर्गत ऋण लेता है तो ऋण जमा करने हेतु नियम निर्धारित किए गए हैं।
  • योजना के माध्यम से किसान जितना भी ऋण लेता है, उसे जमा करने का समय लोन जारी होने के 2 वर्ष बाद शुरू होगा।
  • किसान द्वारा लोन ली गई राशि में से अनुदान की राशि को घटाया जाएगा और शेष राशि पर ब्याज की गणना कर मासिक क़िस्त निर्धारित की जावेगी।
  • 7 वर्ष के अंदर किसान को ऋण ली गई पूर्ण राशि जमा करनी होगी।


बलराम ताल योजना क्या है

मध्य प्रदेश सरकार ने वर्ष 2007 में खेत में वर्षा जल के संरक्षण द्वारा कृषि गतिविधियों को स्थायी आधार पर समर्थन देने के उद्देश्य से “बलराम ताल” योजना शुरू की थी। वर्ष 2007 से 31 मार्च 2010 के बीच योजना के तहत 7518 हितग्राहियों को सहायता प्रदान की गई है।

बलराम ताल योजना का मुख्य लक्ष्य क्या है

मध्य प्रदेश सरकार ने वर्ष 2007 में “बलराम ताल” योजना शुरू की थी, जिसका उद्देश्य इस क्षेत्र में वर्षा जल के संरक्षण द्वारा स्थायी आधार पर कृषि गतिविधियों का समर्थन करना था। वर्ष 2007 से 31 मार्च 2010 के बीच, 7518 लाभार्थियों को योजना के तहत सहायता प्रदान की गई है।

खेत तालाब योजना क्या है?

इस योजना के तहत किसानों को जल संरक्षण एवं इसके समुचित प्रयोग के लिए प्रेरित किया जाएगा। खेत तालाब योजना उत्तर प्रदेश वर्षा जल को संग्रहित करके इसे सिंचाई हेतु प्रयोग करने काला प्रदान करेगी। इस योजना के तहत जल को संचित करके उसका सुरक्षित उपयोग किया जा सकेगा।27-Mar-2022

Leave a Comment

%d bloggers like this: